आधार रेखाओं और प्रदर्शन इतिहास का उपयोग करके office 365 प्रदर्शन ट्यूनिंग

महत्वपूर्ण:  यह लेख मशीन द्वारा अनुवादित है, अस्वीकरण देखें. कृपया इस लेख का अंग्रेजी संस्करण यहाँ पाएँ आपके संदर्भ के लिए.

Office 365 और आपके व्यवसाय के बीच कनेक्शन प्रदर्शन जाँचने के लिए कुछ आसान तरीके हैं जो आपको आपकी कनेक्टिविटी का अनुमान लगाने देगा. अपने क्लायंट कंप्यूटर कनेक्शंस का प्रदर्शन इतिहास जानने से उभरती समस्याएँ जल्दी पता चलने, पहचाने और अनुमान लगाने में मदद कर सकती हैं.

यदि आपके पास प्रदर्शन आधारित समस्याएँ हल करने का अधिक अनुभव नहीं है, तो आलेख कुछ सामान्य प्रश्नों का उत्तर देने के लिए डिज़ाइन किया गया है, जैसे आपको कैसे पता चलेगा कि आपके सामने जो समस्या है, वह प्रदर्शन समस्या है न कि Office 365 सेवा घटना? आप लंबे समय के लिए, अच्छा कार्य-प्रदर्शन कैसे निश्चित कर सकते हैं? आप प्रदर्शन पर नज़र कैसे रख सकते हैं? यदि आपकी टीम या क्लायंट्स Office 365 उपयोग करते समय धीमे प्रदर्शन का अनुभव कर रहे हैं और आप इन में से किसी प्रश्न के बारे में सोच रहे हैं, तो पढ़ते जाइए.

महत्वपूर्ण: अपने क्लाइंट और Office 365 के बीच इस समय किसी समस्या का सामना कर रहे हैं?Office 365 के लिए प्रदर्शन समस्या निवारण योजना में बाह्यरेखांकित चरणों का अनुसरण करें.

Office 365 के कार्य-प्रदर्शन के बारे में कुछ चीज़ें ऐसी हैं जो आपको जाननी चाहिए

Office 365 उच्‍च-क्षमता वाले, समर्पित Microsoft नेटवर्क में रहता है जिसकी सतत निगरानी न केवल स्‍वचालित, बल्‍कि वास्‍तविक लोगों द्वारा भी की जाती है. Office 365 क्लाउड के रखरखाव करने के कार्य भाग में, कार्य-प्रदर्शन में सुधार करना और जहाँ भी संभव हो उसे सुविधाजनक बनाना है. चूँकि Office 365 क्‍लाउड के क्‍लाइंट को संपूर्ण इंटरनेट पर कनेक्‍ट होना होता है, इसलिए संपूर्ण Office 365 सेवाओं में भी कार्य-प्रदर्शन को सुधारने का प्रयास लगातार किया जाता है. क्‍लाउड में कार्य-प्रदर्शन सुधार कभी भी नहीं थमते हैं, और क्‍लाउड को सुचारू और तेज़ बनाए रखने में पर्याप्त संचित अनुभव काम करता है. यदि आप अपने स्थान से Office 365 से कनेक्ट होने में किसी कार्य-प्रदर्शन समस्या का अनुभव करते हैं, तो किसी सहायक मामले के साथ शुरू न करना, और नतीजे की प्रतीक्षा करना, सबसे अच्छा उपाय है. इसके बजाय, आपको समस्‍या का 'अंदर से बाहर तक' निरीक्षण करना चाहिए. अर्थात्, अपने नेटवर्क के भीतर से प्रारंभ करें, और फिर आगे बढ़ते हुए Office 365 तक पहँचें. Office 365 समर्थन के साथ कोई मामला खोलने से पहले, आप डेटा एकत्रित कर सकते हैं और ऐसे कदम उठा सकते हैं जो आपकी समस्या का अन्वेषण करेंगे, और संभवत: उनका समाधान करेंगे.

महत्वपूर्ण: क्षमता की योजना बनाना और Office 365 में सीमाएँ का ध्यान रखें। उस जानकारी आप वक्र से कोई कार्य-प्रदर्शन समस्या को हल करने का प्रयास करते समय रखेंगे। यहाँ Office 365 प्लेटफ़ॉर्म सेवा वर्णनकरने के लिए एक लिंक है। यह एक केंद्रीय हब है, और Office 365 द्वारा दी जाने वाली सभी सेवाएँ जो उनके स्वयं सेवा वर्णनों के लिए यहाँ से आता है लिंक भी हो। जो, आपको SharePoint Online के लिए मानक सीमाएँ देखें करने की आवश्यकता चाहिए, उदाहरण के लिए, आप चाहेंगे SharePoint Online सेवा वर्णन पर क्लिक करें और इसके SharePoint Online की सीमाएँ अनुभाग.

सुनिश्चित करें कि आप इस समझ के साथ अपने समस्या निवारण के लिए जाएँ कि कार्य-प्रदर्शन एक स्लाइडिंग स्केल है, यह किसी आदर्श मूल्य को हासिल करने और उसे स्थायी रूप से बनाए रखने के बारे में नहीं है (यदि आपको ऐसा लगता है, तो फिर कभी-कभार होने वाले उच्च-बैंडविड्थ कार्य जैसे बड़ी संख्या में उपयोगकर्ताओं को ऑन-बोर्ड करना, या बड़ा डेटा माइग्रेट करना बहुत तनावपूर्ण हो सकता है -- इसलिए कार्य-प्रदर्शन प्रभावों की योजना बनाएँ). आपको अपने कार्य-प्रदर्शन लक्ष्यों की थोड़ी बहुत जानकारी हो सकती है, और होनी चाहिए, लेकिन कार्य-प्रदर्शन में बहुत-से विचलन भूमिका निभाते हैं, इसलिए कार्य-प्रदर्शन में अंतर होता है. यह कार्य-प्रदर्शन की प्रकृति है.

कार्य-प्रदर्शन समस्या निवारण विशिष्ट लक्ष्यों की पूर्ति करने और उन आँकड़ों को अनंतकाल तक बनाए रखने के बारे में नहीं है, यह तो सभी विचलनों का ध्यान रखते हुए, मौजूदा गतिविधियों को बेहतर बनाने के बारे में है.

ठीक है, तो कार्य-प्रदर्शन संबंधी समस्‍या कैसी दिखाई देती है?

सबसे पहले, आपको यह सुनिश्‍चित करना होगा कि आप जो अनुभव कर रहे हैं वह वास्‍तव में कार्य-प्रदर्शन संबंधी समस्‍या है ना कि सेवा संबंधी कोई घटना. Office 365 में कार्य-प्रदर्शन संबंधी समस्‍या सेवा संबंधी घटना से भिन्‍न होती है. उन्‍हें अलग-अलग करने का तरीका यहाँ बताया गया है.

यदि Office 365 सेवा में समस्‍याएँ आ रही हैं, तो वह सेवा संबंधी घटना है. आपको Office 365 व्यवस्थापन केंद्र में वर्तमान स्‍थिति के अंतर्गत लाल या पीले चिह्न दिखाई देंगे, आपको Office 365 से कनेक्‍ट करते समय क्‍लाइंट कंप्‍यूटर्स का धीमा कार्य-प्रदर्शन भी महसूस होगा. उदाहरण के लिए, यदि वर्तमान स्‍थिति लाल चिह्न दर्शाती है और आपको Exchange की बगल में निरीक्षण हो रहा है दिखाई देता है, तो फिर आपको अपने संगठन के उन लोगों के भी ढ़ेरों कॉल आ सकते हैं जो Exchange Onlline का उपयोग करने वाले क्‍लाइंट मेलबॉक्सेज़ के खराब कार्य-प्रदर्शन करने की शिकायत करते हैं. उस स्‍थिति में, यह मान लेना उचित होगा कि आपके Exchange Online का कार्य-प्रदर्शन केवल सेवा की आंतरिक समस्‍याओं का शिकार हुआ है.

सभी वर्कलोड्स के साथ Office 365 स्वास्थ्य डैशबोर्ड हरा दिखा रहा है, सिवाय Exchange के, जो दिखाता है कि सेवा को पुनर्स्थापित किया गया है.

इस समय, Office 365 के व्‍यवस्‍थापक, यानी कि आपको हमारे द्वारा सिस्‍टम पर किए जा रहे रखरखाव पर अद्यतन जानकारीयुक्त रहने के लिए वर्तमान स्‍थिति देखनी चाहिए और फिर समय-समय पर विवरण और इतिहास देखना चाहिए. वर्तमान स्‍थिति डैशबोर्ड आपको सेवा में होने वाले परिवर्तन और उनमें आने वाली समस्‍याओं के बारे में अद्यतित करने के लिए बनाया गया था. स्‍थिति इतिहास में, व्‍यवस्‍थापक से व्‍यवस्‍थापक को, लिखे गए नोट्स और स्‍पष्‍टीकरण आपको अपने प्रभाव का आँकलन करने, और जारी कार्य के बारे में आपको अवगत रखने के लिए हैं.

Exchange Online सेवा का वर्णन करने वाले Office 365 स्वास्थ्य डैशबोर्ड का एक चित्र पुनर्स्थापित किया गया है, और क्यों.

कार्य-प्रदर्शन संबंधी समस्‍या सेवा संबंधी घटना नहीं है, भले ही इन घटनाओं से कार्य-प्रदर्शन धीमा हो सकता हो. कार्य-प्रदर्शन संबंधी समस्‍या ऐसी दिखाई दे सकती है:

  • Office 365 व्‍यवस्‍थापक केंद्र की वर्तमान स्‍थिति सेवा के बारे में कुछ भी क्‍यों न रिपोर्ट कर रही हो, कार्य-प्रदर्शन संबंधी समस्‍या फिर भी उत्‍पन्‍न होगी.

  • जिस व्‍यवहार को तुलनात्‍मक रूप से काफी कम समय लगता था उसे पूरा होने में बहुत देर लग रही है या वह पूरा ही नहीं हो रहा है.

  • आप समस्‍या की नकल भी कर सकते हैं, या, कम से कम यदि आप सही चरणों की श्रृंखला का पालन करते हैं तो आपको पता होगा कि ऐसा होने वाला है.

  • यदि समस्‍या रुक-रुक कर आ रही है, तो उसका भी एक तरीका होता है, उदाहरण के लिए, आप जानते हैं कि पूर्वाह्न 10:00 बजे से उन उपयोगकर्ताओं के कॉल आने लगेंगे जो Office 365 पर विश्‍वसनीय रूप से पहुँच प्राप्त नहीं कर पा रहे हैं, और दोपहर तक कॉल आना बंद हो जाएँगे.

यह शायद जाना-पहचाना सा लगे; शायद बहुत अधिक जाना-पहचाना. जब आपको पता चल जाता है कि समस्‍या कार्य-प्रदर्शन से संबंधित है, तब प्रश्‍न यह उठता है कि, "आगे क्‍या करना है?" लेख में आगे आपको इसी प्रश्‍न का उत्‍तर मिलने वाला है.

प्रदर्शन समस्या को निर्धारित करने और इसकी जाँच करने का तरीका

कार्य-प्रदर्शन की समस्याएँ अक्सर समय के साथ आती हैं, इसलिए वास्तविक समस्या निर्धारित करना चुनौतीपूर्ण हो सकता है. आपको एक अच्छा समस्या विवरण तैयार करना होगा और समस्या के प्रसंग को अच्छे से समझना होगा, और फिर उससे पार पाने के लिए आपको दोहराने योग्य परीक्षण चरण बनाने होंगे. अन्यथा, आपकी गलती न होते हुए भी, आपको नुकसान हो सकता है. क्यों? वैसे, यहाँ उन समस्या विवरणों के कुछ उदाहरण दिए गए हैं, जिनसे पर्याप्त जानकारी नहीं मिलती:

  • मेरा इनबॉक्‍स से मेरा कैलेंडर में स्‍विच करना कुछ ऐसा था जिस पर मैंने ध्‍यान नहीं दिया था, और अब कॉफ़ी पीने का समय हो गया है. क्‍या आप उससे वैसे ही काम ले सकते हैं जैसा वह पहले करता था?

  • मेरी फ़ाइलों को SharePoint Online पर अपलोड करने में बहुत अधिक समय लग रहा है. ऐसा क्‍यों है कि यह दोपहर में धीमा हो जाता है, और बाकी किसी भी समय तेज़ रहता है? क्‍या यह तेज़ नहीं बना रह सकता?

उपरोक्‍त समस्‍या विवरणों से कुछ बहुत बड़ी चुनौतियाँ खड़ी हुई हैं. विशेष रूप से, बहुत सी चीज़ें अस्‍पष्‍ट हैं जिनका सामना करना है. उदाहरण के लिए:

  • यह स्‍पष्‍ट नहीं है कि लैपटॉप पर इनबॉक्‍स और कैलेंडर के बीच स्‍विच करना किस तरह होता था.

  • जब उपयोगकर्ता कहता है, "क्या यह थोड़ा तेज़ नहीं हो सकता", तो इसमें "तेज़" क्या है?

  • कितने समय तक यानी "हमेशा" के लिए? क्‍या वह कुछ सेकंड है, या मिनट है, या उपयोगकर्ता खाना खाने जाता है और उसके लौटने के दस मिनट के बाद पूरा हो जाता है?

यह सब कुछ इस बात को ध्‍यान में रखे बिना है कि व्‍यवस्‍थापक या समस्‍या निवारक को इन जैसे समस्‍या वर्णन में से कई विवरणों के बारे में पता नहीं हो सकता है. उदाहरण के लिए, समस्‍या की शुरुआत कब से होनी शुरू हुई थी; यह कि उपयोगकर्ता घर से काम करता है और घरेलू नेटवर्क पर होने के दौरान स्विच करने की प्रक्रिया को केवल धीमा ही पाता है; यह कि उपयोगकर्ता को स्‍थानीय क्‍लाइंट पर कई अन्‍य RAM संवेदनशील अनुप्रयोग चलाने पड़ते हैं, या उपयोगकर्ता कोई पुराना ऑपरेटिंग सिस्‍टम चला रहा है या हाल ही के अद्यतन नहीं चलाए गए हैं.

जब उपयोगकर्ता किसी कार्य-प्रदर्शन संबंधी समस्‍या की रिपोर्ट करता है, तो उसमें एकत्रित करने के लिए बहुत सारी जानकारी होती है. यह जानकारी एकत्रित करना समस्‍या की स्‍कोपिंग नामक प्रक्रिया का, या उसकी जाँच करने की प्रक्रिया का एक भाग है. नीचे एक मूलभूत स्‍कोपिंग सूची दी गई है जिसे आप अपनी कार्य-प्रदर्शन संबंधी समस्‍या के बारे में जानकारी एकत्रित करने में उपयोग कर सकते हैं. यह सूची संपूर्ण नहीं है, लेकिन इससे शुरुआत की जा सकती है:

  • समस्‍या किस दिन हुई थी, और वह दिन का समय था या रात का?

  • आप किस तरह के क्‍लाइंट कंप्‍यूटर का उपयोग कर रहे हैं, और वह व्‍यावसायिक नेटवर्क से किस तरह कनेक्‍ट करता है (VPN, वायर्ड, वायरलेस)?

  • क्‍या आप दूरस्‍थ रूप से काम कर रहे थे या आप कार्यालय में थे?

  • क्‍या आपने वही क्रियाएँ किसी अन्‍य कंप्‍यूटर पर आज़माई थी और वहाँ भी वैसा ही व्‍यवहार पाया था?

  • जिन चरणों से आपको समस्‍या हो रही है उन पर नज़र डालें ताकि आप उन क्रियाओं को लिख सकें जो आपने की हैं.

  • कार्य-प्रदर्शन सेकंड या मिनट में कितना धीमा है?

  • आप विश्‍व में कहाँ पर स्थित हैं?

दूसरे प्रश्‍नों की अपेक्षा ये कुछ प्रश्‍न अधिक सामान्‍य हैं. अधिकांशत: प्रत्‍येक व्‍यक्‍ति इस बात को समझेगा कि समस्‍या को फिर से देखने के लिए समस्‍या निवारक को उन्‍हीं वास्‍तविक चरणों की आवश्‍यकता होगी. आखिर, आप कैसे रिकॉर्ड करेंगे कि क्‍या गलत है, और आप कैसे परखेंगे कि समस्‍या ठीक हो चुकी है? जो बातें कम सामान्‍य हैं वे हैं "आपको समस्‍या किस दिन और किस समय पर दिखाई दी थी?", और "आप विश्‍व में कहाँ पर स्थित हैं?", ऐसी जानकारी जिसका उपयोग एकसाथ किया जा सकता है. इस बात पर निर्भर करते हुए कि उपयोगकर्ता कब काम कर रहा था, कुछ घंटों के अंतर का तात्‍पर्य यह हो सकता है कि आपकी कंपनी के नेटवर्क के भागों पर रखरखाव पहले से ही चल रहा है. यदि, उदाहरण के लिए, आपकी कंपनी में हाइब्रिड क्रियान्‍वयन किया गया है, जैसे कि हाइब्रिड SharePoint Search, जो कि SharePoint Online तथा ऑन-प्रिमाइसेस SharePoint Server 2013 दोनों में खोज अनुक्रमणिकाओं से क्‍वेरी कर सकता है, तो हो सकता है कि अद्यतन ऑन-प्रिमाइसेस फ़ार्म में चल रहे हों. यदि आपकी कंपनी पूरी तरह से क्‍लाउड पर है, तो सिस्‍टम रखरखाव में नेटवर्क हार्डवेयर को जोड़ना या निकालना, ऐसे अद्यतन प्रस्तुत करना जो कंपनी व्‍यापी हों, या DNS में परिवर्तन करना, या अन्‍य महत्‍वपूर्ण अधोसंरचना शामिल हो सकते हैं.

जब आप कार्य-प्रदर्शन संबंधी समस्‍या का निवारण कर रहे होते हैं, तो वह कुछ-कुछ एक अपराध स्‍थल जैसा होता है, आपको साक्ष्‍य से कोई भी निष्कर्ष निकालने के लिए सटीक रहने और तेज़ नज़र बनाए रखने की आवश्‍यकता होती है. ऐसा करने के लिए, आपको साक्ष्‍य जुटाकर एक अच्‍छा समस्‍या विवरण प्राप्‍त करना होगा. इसमें कंप्‍यूटर का संदर्भ, उपयोगकर्ता का संदर्भ, समस्‍या की शुरुआत होने का समय, और कार्य-प्रदर्शन संबंधी समस्‍या को सामने लाने वाले सटीक चरण शामिल होने चाहिए. इस समस्‍या विवरण आपके नोट्स का सबसे पहला पृष्‍ठ होना, और रहना, चाहिए. समाधान पर काम करने के बाद फिर से समस्‍या विवरण पर नज़र डालकर, आप इस बात का परीक्षण करने और सिद्ध करने के लिए चरणों को पूरा करते हैं कि क्‍या आपने जो कदम उठाए हैं उनसे समस्‍या हल हो गई है या नहीं. यह जानना महत्‍वपूर्ण होता है जब आप, वहाँ, कार्य पूरा कर लेते हैं.

क्या आप जानते है कि जब कार्य प्रदर्शन बढ़िया था तो कैसा दिखाई देता है?

यदि आप बदकिस्‍मत हुए, तो किसी को भी नहीं पता होगा. किसी के पास भी आँकड़े नहीं होंगे. इसका अर्थ है कि कोई भी इस सरल से प्रश्‍न का उत्‍तर नहीं दे सकता कि "Office 365 में इनबॉक्‍स को सामने लाने में लगभग कितने सेकंड का समय लगा था", या "कार्यकारी अधिकारियों की Lync Online मीटिंग में कितना समय लगा करता था", जो कि कई कंपनियों के लिए एक आम बात है.

यहाँ जो चीज़ नहीं है वह है कार्य-प्रदर्शन की आधार रेखा.

आधार रेखा आपको अपने कार्य-प्रदर्शन के लिए संदर्भ देती है. आपको अपनी कंपनी की आवश्‍यकताओं पर निर्भर करते हुए, कभी-कभी से लेकर समय-समय पर एक आधार रेखा लेनी चाहिए. यदि आप एक बड़ी कंपनी हैं, तो हो सकता है कि आपकी परिचालन टीम आपके लिए पहले ही ऑन-प्रिमाइसेस वातावरण के लिए आधार रेखाएँ लेकर रखे. उदाहरण के लिए, यदि आप माह के पहले सोमवार को सभी Exchange सर्वर, और तीसरे सोमवार को अपने सभी SharePoint सर्वर को पैच करते हैं, तो आपकी परिचालन टीम के पास संभवत: उन कार्यों एवं परिदृश्‍यों की सूची होती है जिन्‍हें वह पैचिंग के बाद चलाती है, ताकि यह सिद्ध हो सके कि महत्‍वपूर्ण कार्य परिचालनात्‍मक हैं. उदाहरण के लिए, इनबॉक्‍स को खोलना, भेजें/प्राप्‍त करें पर क्‍लिक करना, और फ़ोल्‍डर अद्यतन सुनिश्‍चित करना, या, SharePoint में, साइट का मुख्‍य पृष्‍ठ ब्राउज़ करना, एंटरप्राइज़ खोज पृष्‍ठ पर जाना, और परिणाम लौटाने वाली खोज करना.

यदि आपके अनुप्रयोग Office 365 में हैं, तो कुछ सबसे मूलभूत आधार रेखाएँ हैं जिन्हें आप अपने नेटवर्क के अंदर किसी क्‍लाइंट कंप्‍यूटर से लेकर, निकास बिंदु तक, या जहाँ आप अपना नेटवर्क छोड़कर Office 365 से बाहर निकल जाते हैं उस बिंदु तक का समय(मिलीसेकंड में) मापने में उपयोग कर सकते हैं. यहाँ कुछ उपयोगी आधार रेखाएँ दी गई हैं जिनकी आप जाँच कर सकते हैं और उन्‍हें रिकॉर्ड कर सकते हैं:

  • आपके क्‍लाइंट कंप्‍यूटर और आपके निकासी बिंदु, उदाहरण के लिए, आपके प्रॉक्‍सी सर्वर के बीच डिवाइसेज़ की पहचान करें.

    • आपको अपने डिवाइसेज़ पता होने चाहिए, ताकि आपके पास आने वाली किसी भी कार्य-प्रदर्शन समस्या का संदर्भ (IP पते, डिवाइस का प्रकार इत्यादी) रहे.

    • प्रॉक्‍सी सर्वर सामान्‍य निकासी बिंदु होते हैं, इसलिए आप यह देखने के लिए अपना वेब ब्राउज़र जाँच सकते हैं कि यदि कोई प्रॉक्‍सी सर्वर उपयोग के लिए सेट किया गया है, तो वह कौन सा है.

    • ऐसे तृतीय पक्ष उपकरण उपलब्ध हैं जो आपका नेटवर्क खोज सकते हैं और उसे मैप कर सकते हैं, लेकिन अपने डिवाइसेज़ जानने का सबसे सुरक्षित तरीका है अपनी नेटवर्क टीम के किसी सदस्य से पूछना.

  • अपने इंटरनेट सेवा प्रदाता (ISP) की पहचान करें, उनकी संपर्क जानकारी लिखें, और पूछें कि आपके पास कितने सर्किट और कितनी बैंडविड्थ है.

  • अपनी कंपनी के भीतर, अपने क्‍लाइंट और निकासी बिंदु के बीच डिवाइसेज़ के लिए संसाधनों की पहचान करें, या नेटवर्किंग समस्‍याओं पर बात करने के लिए आपातकालीन संपर्क के बारे में पता करें.

यहाँ कुछ आधार रेखाएँ दी गई हैं जिन्हें आपके लिए उपकरणों के साथ सरल परीक्षण परिकलित कर सकता है:

  • आपके क्‍लाइंट कंप्‍यूटर से आपके निकासी बिंदु के बीच का मिलीसेकंड में समय

  • आपके निकासी बिंदु से Office 365 के बीच का मिलीसेकंड में समय

  • विश्‍व में सर्वर का वह स्‍थान जो आपके द्वारा ब्राउज़ करते समय Office 365 के URL को हल करता है

  • आपके ISP के DNS की गति मिलीसेकंड में, पैकेट के आगमन में असंगतताएँ (नेटवर्क जिटर), अपलोड और डाउनलोड का समय मिलीसेकंड में

यदि आप इस बारे में अपरिचित हैं कि इन चरणों को कैसे पूरा करना है, तो इस लेख में हम अधिक विस्तार से आगे बढ़ेंगे.

आधार रेखा क्या है?

जब प्रभाव बुरा होगा तो आपको पता चल जाएगा, लेकिन यदि आप अपने ऐतिहासिक कार्य-प्रदर्शन डेटा के बारे में नहीं जानते हैं, तो यह कब और कितना बुरा हो सकता है इसके बारे में तथ्य प्राप्त करना संभव नहीं है. इसलिए आधार रेखा के बिना, आप पहेली को सुलझाने की महत्‍वपूर्ण कड़ी से चूक रहे हैं: यानी पहेली बॉक्‍स पर मौजूद चित्र. कार्य-प्रदर्शन समस्‍या निवारण में, आपको तुलना करने के लिए एक बिंदु की आवश्‍यकता होती है. सरल कार्य-प्रदर्शन समस्‍या निवारण आधार रेखाओं को करना कठिन नहीं होता. आपकी परिचालन टीम को एक समय-सीमा के साथ इन्‍हें पूरा करने का काम सौंपा जा सकता है. उदाहरण के लिए, मान लेते हैं कि आपका कनेक्‍शन कुछ ऐसा दिखाई देता है:

क्लाइंट, प्रॉक्सी और Office 365 क्लाउड दिखाते हुए एक मूल नेटवर्क ग्राफ़िक.

इसका अर्थ है कि आपने अपनी नेटवर्क टीम के साथ जाँच कर ली है और आपने पाया है कि आप इंटरनेट के लिए अपनी कंपनी को प्रॉक्‍सी सर्वर के माध्‍यम से छोड़ते हैं, और वह प्रॉक्‍सी आपके क्‍लाइंट कंप्‍यूटर द्वारा क्‍लाउड पर भेजे जाने वाले सभी अनुरोधों को संभालता है. इस मामले में, आपको अपने कनेक्‍शन का एक सरलीकृत संस्‍करण बनाना चाहिए जो सभी मध्‍यवर्ती डिवाइसेज़ को सूचीबद्ध करे. अब, ऐसे उपकरण सम्‍मिलित करें जिन्हें आप क्‍लाइंट, निकासी बिंदु (जहाँ आप इंटरनेट के लिए अपना नेटवर्क छोड़ते हैं), और Office 365 क्‍लाउड के बीच कार्य-प्रदर्शन का परीक्षण करने के लिए उपयोग कर सकें.

PSPing, TraceTCP और नेटवर्क ट्रैस का सुझाव देने वाले क्लायंट, प्रॉक्सी और क्लाउड, और उपकरण के साथ बेसिक नेटवर्क.

कार्य-प्रदर्शन डेटा ढूँढने के लिए आपको जिस मात्रा में विशेषज्ञता की आवश्यकता है उसके कारण विकल्पों को साधारण और उन्नत के रूप में सूचीबद्ध किया गया है. आदेश-पंक्ति उपकरण जैसे कि PsPing और TraceTCP चलाने की तुलना में नेटवर्क ट्रेस में बहुत अधिक समय लगेगा. इन दो आदेश-पंक्ति उपकरणों को इसलिए चुना गया है क्योंकि ये ICMP पैकेट्स का उपयोग नहीं करते हैं, जो Office 365 द्वारा अवरुद्ध कर दिए जाएँगे, और इसलिए क्योंकि ये क्लाइंट के कंप्यूटर, या प्रॉक्सी सर्वर (यदि आपको पहुँच प्राप्त है) को छोड़ने और Office 365 पर पहुँचने में लगने वाला समय मिलीसेकंड में प्रदान करते हैं. एक कंप्यूटर से दूसरे पर प्रत्येक व्यक्तिगत हॉप एक समय मान के साथ समाप्त होगा, और यह आधार रेखाओं के लिए बहुत उपयुक्त है! इसी तरह, ये आदेश-पंक्ति उपकरण आपको आदेश पर एक पोर्ट संख्या जोड़ने देते हैं, यह इसलिए उपयोगी है क्योंकि Office 365 पोर्ट 443 पर संप्रेषण करता है, जो सिक्योर सॉकेट लेयर और ट्रांसपोर्ट लेयर सिक्योरिटी (SSL या TLS) द्वारा उपयोग किया जाने वाला पोर्ट है. हालाँकि, अन्य तृतीय-पक्ष उपकरण आपकी स्थिति के लिए बेहतर समाधान हो सकते हैं. Microsoft इन सभी उपकरणों का समर्थन नहीं करता है, इसलिए यदि कुछ कारणों से PsPing और TraceTCP कार्य नहीं करते हैं, तो उपकरण जैसे कि Netmon के साथ किसी नेटवर्क ट्रेस पर जाएँ.

आप व्यावसायिक घंटों के पहले कोई आधार रेखा ले सकते हैं, अत्यधिक उपयोग के दौरान पुन: ले सकते हैं, और फिर कुछ घंटे के बाद पुन: ले सकते हैं. इस का अर्थ है कि आपके पास एक ऐसी फ़ोल्डर संरचना हो सकती है जो अंत में कुछ इस तरह दिखाई देगी:

आपके प्रदर्शन डेटा को फ़ोल्डर्स में व्यवस्थित करने का तरीका प्रस्तुत करता हुआ ग्राफ़िक.

आपको अपनी फ़ाइलों के लिए नामकरण प्रथा भी चुननी चाहिए. यहाँ कुछ उदाहरण दिए गए है:

  • Feb_09_2015_9amPST_PerfBaseline_Netmon_ClientToEgress_Normal

  • Jan_10_2015_3pmCST_PerfBaseline_PsPing_ClientToO365_bypassProxy_SLOW

  • Feb_08_2015_2pmEST_PerfBaseline_BADPerf

  • Feb_08_2015_8-30amEST_PerfBaseline_GoodPerf

ऐसा करने के बहुत से विभिन्न तरीके हैं, लेकिन <dateTime><what's happening in the test> स्वरूप का उपयोग करते हुए प्रारंभ करना एक अच्छा तरीका है. इस बारे में सावधान रहने से आपको बाद में समस्याओं का निवारण करने का प्रयास करते समय बहुत अधिक मदद मिलेगी. बाद में, आप यह कहने में समर्थ होंगे कि "मैंने 8 फ़रवरी को दो ट्रेसेज़ लिए थे, एक ने अच्छा कार्य-प्रदर्शन किया और दूसरे ने बुरा, इसलिए हम उनकी तुलना कर सकते हैं". यह समस्या निवारण में अत्यधिक उपयोगी है.

अपनी ऐतिहासिक आधार रेखाओं को रखने के लिए आपके पास एक व्यवस्थित तरीका होना चाहिए. इस उदाहरण में, साधारण पद्धतियों ने तीन आदेश पंक्ति आउटपुट निर्मित किए थे और परिणाम स्क्रीन शॉट्स के रूप में एकत्रित किए गए थे, लेकिन हो सकता है कि आपके पास इसके बजाय नेटवर द्वारा कैप्चर की गई फ़ाइलें हों. अपने लिए सबसे उपयुक्त पद्धति का उपयोग करें. अपनी ऐतिहासिक आधार रेखाओं को संग्रहीत करें और ऑनलाइन सेवाओं के व्यवहार में परिवर्तन देखने पर उनका संदर्भ लें.

परीक्षण के दौरान कार्य-प्रदर्शन डेटा को क्यों एकत्रित करें?

आधार रेखाओं को बनाने का सबसे अच्छा समय उन्हें Office 365 सेवा के सर्वप्रथम परीक्षण के दौरान बनाने के अलावा और कोई नहीं है. आपके कार्यालय में हज़ारो, लाखों उपयोगकर्ता हो सकते हैं, या उसमें पाँच उपयोगकर्ता हो सकते हैं, लेकिन उपयोगकर्ताओं की कम संख्या के साथ भी आप कार्य-प्रदर्शन में उतार-चढ़ाव मापने के लिए परीक्षण कर सकते हैं. किसी बड़ी कंपनी के मामले में, कई सैकड़ों उपयोगकर्ताओं द्वारा सर्वप्रथम परीक्षण किए जा रहे Office 365 के किसी प्रतिनिधित्व नमूने को बाहर कई हज़ारों में प्रक्षेपित किया जा सकता है ताकि समस्या उत्पन्न होने से पहले आप जान सकें कि समस्याएँ कहाँ उत्पन्न हो सकती हैं.

किसी छोटी कंपनी के मामले में, जहाँ ऑन-बोर्डिंग का अर्थ है कि सभी उपयोगकर्ता एक ही समय में सेवा पर जाते हैं और वहाँ कोई भी सर्वप्रथम परीक्षण नहीं होता है, ऐसी स्थिति में कार्य-प्रदर्शन माप रखें ताकि आपके पास किसी ऐसे व्यक्ति को दिखाने के लिए डेटा हो जिसे खराब तरीके से निष्पादित होने वाली कार्रवाई की समस्या का निवारण करना पड़ सकता है. उदाहरण के लिए, यदि आप देखते हैं कि किसी मध्यम-आकार वाले ग्राफ़िक जो पहले बहुत जल्द अपलोड हो जाता था उसे अचानक से अपलोड होने में उतना समय लगता है जितने समय में आप अपनी पूरी बिल्डिंग का चक्कर लगा सकते हैं.

आधार रेखाओं को एकत्रित करने का तरीका

समस्या निवारण की सभी योजनाओं के लिए आपको कम से कम इन चीजों को पहचानने की आवश्यकता होती है:

  • आप जो क्लायंट कंप्यूटर उपयोग कर रहे हैं (कंप्यूटर या डिवाइस का प्रकार, IP पता और वह कार्रवाई जिसके कारण समस्या उत्पन्न हुई)

  • क्लायंट का कंप्यूटर दुनिया में कहाँ स्थित है (उदाहरण के लिए क्या यह उपयोगकर्ता नेटवर्क के VPN पर है, दूरस्थ रूप से कार्य कर रहा है, या कंपनी इंट्रानेट पर)

  • निर्गमन बिंदु आपके नेटवर्क से क्लायंट कंप्यूटर का उपयोग करता है (वह बिंदु जहाँ से ट्रैफ़िक ISP या इंटरनेट के लिए आपका व्यवसाय छोड़ देता है)

आप नेटवर्क व्यवस्थापक से अपने नेटवर्क की लेआउट जानकारी प्राप्त कर सकते हैं. यदि आप किसी छोटे नेटवर्क पर हैं, तो उन डिवाइसेज़ पर एक नजर डालें जो आपको इंटरनेट से कनेक्ट करते हैं, और यदि आप लेआउट के बारे में कोई प्रश्न पूछना चाहते हैं तो अपने ISP को कॉल करें. अपने संदर्भ के लिए अंतिम लेआउट का एक ग्राफ़िक बनाएँ.

इस अनुभाग को साधारण आदेश-पंक्ति उपकरणों और पद्धतियों, तथा और अधिक उन्नत उपाकरण विकल्पों में विभाजित किया गया है. हम सबसे पहले साधारण पद्धतियों के बारे में बात करेंगे. लेकिन यदि आपको हाल ही में किसी कार्य-प्रदर्शन समस्या का सामना करना पड़ा है, तो आपको उन्नत पद्धतियों पर जाना चाहिए और नमूना कार्य-प्रदर्शन-समस्या निवारण क्रिया योजना का प्रयास करना चाहिए.

साधारण पद्धतियाँ

इन साधारण पद्धतियों का उद्देश्य समय के साथ साधारण कार्य-प्रदर्शन आधार-रेखाओं को ग्रहण करना, समझना और उचित प्रकार से संग्रहीत करना है ताकि आप Office 365 कार्य-प्रदर्शन के बारे में सूचित रहें. यहाँ साधारण के लिए वह बहुत ही साधारण आरेख दिया गया है, जैसा कि आपने पहले देखा है:

PSPing, TraceTCP और नेटवर्क ट्रैस का सुझाव देने वाले क्लायंट, प्रॉक्सी और क्लाउड, और उपकरण के साथ बेसिक नेटवर्क.

नोट्स: 

  • इस स्क्रीन शॉट में TraceTCP को शामिल किया गया है क्योंकि यह एक उपयोगी उपकरण है जो हमें मिलीसेकंड में दिखाता है, किसी अनुरोध को संसाधित होने में लगने वाला समय दिखाता है, और दिखाता है कि अनुरोध अपने गंतव्य तक पहुँचने के लिए, एक कंप्यूटर से अगले कंप्यूटर तक पहुँचने में कितने नेटवर्क हॉप्स, या कनेक्शंस का उपयोग करता है. TraceTCP हॉप्स के दौरान उपयोग किए गए सर्वर्स के नाम भी बता सकता है, जो समर्थन में Microsoft Office 365 समस्या निवारक में उपयोगी हो सकते हैं.

  • TraceTCP आदेश बहुत सरल हो सकते हैं, जैसे कि:

  • tracetcp.exe outlook.office365.com:443

  • आदेश में पोर्ट संख्या शामिल करना याद रखें!

  • TraceTCP एक नि: शुल्क डाउनलोड है, लेकिन Wincap पर निर्भर करता है। एक ऐसा उपकरण जो है भी उपयोग किया जाता है और Netmon द्वारा स्थापित Wincap है। हम भी Netmon में उन्नत पद्धतियाँ अनुभाग का उपयोग करें।

यदि आपके पास एकाधिक कार्यालय हैं, तो आपको उनमें से प्रत्येक स्थान में क्लाइंट से डेटा का एक सेट रखने की भी आवश्यकता होगी. यह परीक्षण लेटेंसी को मापता है, जो, इस स्थिति में, एक सांख्यिक मान है जो किसी क्लाइंट द्वारा Office 365 को भेजे गए अनुरोध और Office 365 द्वारा उस अनुरोध का प्रतिसाद देने के बीच लगने वाले समय का वर्णन करता है. परीक्षण आपके डोमेन के अंतर्गत किसी क्लाइंट कंप्यूटर पर प्रारंभ होता है, और आपके नेटवर्क के अंतर्गत राउंड ट्रिप की माप करने का प्रयास करता है, किसी निकास बिंदु से बाहर निकलते हुए, संपूर्ण इंटरनेट से Office 365 और वापसी तक.

निकास बिंदु से डील करने के कुछ तरीके हैं, इस स्थिति में, यह प्रॉक्सी सर्वर है. आप या तो 1 से 2 तक या फिर 2 से 3 तक ट्रेस कर सकते हैं और फिर अपने नेटवर्क का अंतिम कुल प्राप्त करने हेतु संख्याओं को मिलीसेकंड में जोड़ सकते हैं. या, आप Office 365 पतों के लिए प्रॉक्सी को बायपास करने के लिए कनेक्शन कॉन्फ़िगर कर सकते हैं. किसी फ़ायरवॉल, विपरीत प्रॉक्सी, या दोनों के संयोजन वाले बड़े नेटवर्क में, आपको प्रॉक्सी सर्वर पर अपवाद बनाने की आवश्यकता हो सकती है जो बहुत से URL के लिए ट्रैफ़िक को पास होने देता है. Office 365 द्वारा उपयोग किए गए अंतबिंदुओं की सूची के लिए, Office 365 URL और IP पता श्रेणियाँ देखें. यदि आपके पास कोई प्रमाणीकरण प्रॉक्सी है, निम्न के लिए अपवादों का परीक्षण कर प्रारंभ करें:

  • पोर्ट 80 और 443

  • TCP और HTTPs

  • कनेक्शंस जो इनमें से किसी भी URL के लिए आउटबाउंड हैं:

  • *.microsoftonline.com

  • *.microsoftonline-p.com

  • *.sharepoint.com

  • *.outlook.com

  • *.lync.com

  • osub.microsoft.com

सभी उपयोगकर्ताओं को बिना किसी भी प्रॉक्सी व्यवधान या प्रमाणीकरण के इन पतों को प्राप्त करने की अनुमति दिए जाने की आवश्यकता होती है. छोटे नेटवर्क पर, आपको अपने वेब ब्राउज़र में अपनी प्रॉक्सी बायपास सूची में इन्हें जोड़ना चाहिए.

Internet Explorer में अपनी प्रॉक्सी बायपास सूची में इन्हें जोड़ने के लिए, उपकरण > इंटरनेट विकल्प > कनेक्शंस > LAN सेटिंग्स > उन्नत पर जाएँ. साथ ही उन्नत टैब वह स्थान होता है जहाँ आप अपना प्रॉक्सी सर्वर और प्रॉक्सी सर्वर पोर्ट पाएँगे. उन्नत बटन पर पहुँच प्राप्त करने के लिए, आपको अपने LAN के लिए किसी प्रॉक्सी सर्वर का उपयोग करें चेकबॉक्स पर क्लिक करने की आवश्यकता हो सकती है. आप यह सुनिश्चित करना चाहेंगे कि स्थानीय पतों के लिए प्रॉक्सी सर्वर का उपयोग न करें चेक किया गया है. आपके द्वारा उन्नत पर क्लिक करने के बाद, आपको एक पाठ बॉक्स दिखाई देगा जहाँ आप अपवाद दर्ज कर सकते हैं. ऊपर सूचीबद्ध वाइल्डकार्ड URL को अर्द्ध-विरामों द्वारा पृथक करें, उदाहरण के लिए:

*.microsoftonline.com; *.sharepoint.com

जब आप अपने प्रॉक्सी को बायपास कर लेते हैं, तो आपको Office 365 URL पर सीधे पिंग या PsPing का उपयोग करने में सक्षम होना चाहिए. अगला चरण पिंग outlook.office365.com का परीक्षण करने के लिए होगा. या, यदि आप PsPing या किसी अन्य उपकरण का उपयोग कर रहे हैं जो आदेश के लिए कोई पोर्ट संख्या की आपूर्ति करने देगा, तो मिलीसेकंड में औसत राउंड ट्रिप समय देखने के लिए portal.microsoftonline.com:443 के प्रति PsPing करें.

राउंड ट्रिप समय, या RTT, एक सांख्यिक मान होता है जो इस बात की माप करता है कि किसी सर्वर जैसे कि outlook.office365.com पर कोई HTTP अनुरोध भेजने और वापसी उत्तर जिसमें स्वीकार किया होता है कि सर्वर को पता है कि आपने यह किया है, उसमें कितना समय लगता है. आप कभी-कभी इसे RTT के संक्षिप्त रूप में देखेंगे. इसे अपेक्षाकृत बहुत कम समय होना चाहिए.

इस परीक्षण को करने के लिए आपको PSPing या किसी ऐसे अन्य उपकरण का उपयोग करना होगा जो Office 365 द्वारा अवरुद्ध ICMP पैकेट्स का उपयोग नहीं करता है.

एक संपूर्ण Office 365 URL से सीधे मिलीसेकंड में राउंड ट्रिप समय प्राप्त करने के लिए PsPing का उपयोग कैसे करें

  1. इन चरणों को पूर्ण कर एक उच्चस्तरीय कमांड प्रॉम्प्ट चलाएँ:

    1. प्रारंभ करें क्लिक करें.

    2. खोज प्रारंभ करें बॉक्स में, cmd लिखें, और फिर CTRL+SHIFT+ENTER दबाएँ.

    3. यदि उपयोगकर्ता खाता नियंत्रण संवाद बॉक्स प्रकट होता है, तो पुष्टि करें कि यह आपकी इच्छित क्रिया को प्रदर्शित करता है, और फिर जारी रखें क्लिक करें.

  2. उस फ़ोल्डर पर नेविगेट करें जहाँ उपकरण (इस स्थिति में PsPing) स्थापित है और इन Office 365 URL का परीक्षण करें:

    • psping portal.office.com:443

    • psping microsoft-my.sharepoint.com:443

    • psping outlook.office365.com:443

    • psping www.yammer.com:443

      microsoft-my.sharepoint.com port 443 पर जाने वाला PSPing आदेश.

443 की पोर्ट संख्या को शामिल करना सुनिश्चित करें. याद रखें कि Office 365 एन्क्रिप्ट किए गए चैनल पर कार्य करता है. यदि आप बिना पोर्ट संख्या के PsPing करते हैं, तो आपका अनुरोध विफल हो जाएगा. आपके द्वारा अपनी लघु सूची को पिंग किए जाने के बाद, मिलीसेकंड (ms) में औसत समय का पता लगाएँ. यह वही है जिसे आप रिकॉर्ड करना चाहते हैं!

2.8 मिलीसेकंड के राउंडट्रिप के साथ प्रॉक्सी PSPing में क्लाइंट का वर्णन दिखाने वाला ग्राफ़िक.

यदि आप प्रॉक्सी बायपास से परिचित नहीं हैं, और चीज़ों के चरण-दर-चरण करने को प्राथमिकता देते हैं, तो आपको सबसे पहले अपने प्रॉक्सी सर्वर का नाम जानने की आवश्यकता होगी. Internet Explorer में उपकरण > इंटरनेट विकल्प > कनेक्शंस > LAN सेटिंग्स > उन्नत पर जाएँ. उन्नत टैब में आपको अपना प्रॉक्सी सर्वर सूचीबद्ध दिखाई देगा. इस कार्य को पूरा कर कमांड प्रॉम्प्ट पर उस प्रॉक्सी सर्वर को पिंग करें:

प्रॉक्सी सर्वर को पिंग करने और चरण 1 से लेकर 2 के लिए मिलीसेकंड में राउंड ट्रिप मान प्राप्त करने के लिए

  1. इन चरणों को पूर्ण कर एक उच्चस्तरीय कमांड प्रॉम्प्ट चलाएँ:

    1. प्रारंभ करें क्लिक करें.

    2. खोज प्रारंभ करें बॉक्स में, cmd लिखें, और फिर CTRL+SHIFT+ENTER दबाएँ.

    3. यदि उपयोगकर्ता खाता नियंत्रण संवाद बॉक्स प्रकट होता है, तो पुष्टि करें कि यह आपकी इच्छित क्रिया को प्रदर्शित करता है, और फिर जारी रखें क्लिक करें.

  2. ping< आपके ब्राउज़र द्वारा उपयोग किए जाने वाले प्रॉक्सी सर्वर का नाम, या प्रॉक्सी सर्वर का IP पता> लिखें और फिर ENTER दबाएँ. यदि आपके पास PsPing, या कोई अन्य उपकरण, स्थापित है, तो आप इसके बजाय उस उपकरण का उपयोग करने का चयन कर सकते हैं.

    आपका आदेश निम्न में से किसी एक उदाहरण जैसा दिख सकता है:

    • ping ourproxy.ourdomain.industry.business.com

    • ping 155.55.121.55

    • ping ourproxy

    • psping ourproxy.ourdomain.industry.business.com:80

    • psping 155.55.121.55:80

    • psping ourproxy:80

  3. ट्रेस द्वारा परीक्षण पैकेट्स भेजना बंद करने पर, आपको एक लघु सारांश प्राप्त होगा जो औसत को, मिलीसेकेंड में, सूचीबद्ध करता है, और यह वही मान है जिसे आप ढूँढ रहे हैं. संकेत का एक स्क्रीन शॉट लें और अपनी नामकरण प्रथा का उपयोग कर उसे सहेजें. इस समय यह आरेख में मान भरने में भी मदद कर सकता है.

हो सकता है कि आपने सुबह-सुबह कोई ट्रेस लिया हो, और आपका क्लाइंट त्वरित रूप से प्रॉक्सी (या कोई भी निकास सर्वर जो इंटरनेट से बाहर निकलता है) पर पहुँच प्राप्त कर सकता है. इस स्थिति में, आपकी संख्याएँ कुछ इस प्रकार दिखाई देंगी:

ऐसा ग्राफ़िक जो किसी क्लाइंट से 2.8 मिलिसेकंड्स की प्रॉक्सी तक राउंड-ट्रिप समय को दिखाता है.

यदि आपका क्लाइंट कंप्यूटर उन कुछ चयनित कंप्यूटर्स में से एक है जिसे प्रॉक्सी (या निकास) सर्वर पर पहुँच प्राप्त है, तो आप वहाँ से आदेश प्रॉम्प्ट पर Office 365 URL के लिए PsPing चलाकर, दूरस्थ रूप से उस कंप्यूटर से कनेक्ट कर परीक्षण का अगला चरण चला सकते हैं. यदि आपको उस कंप्यूटर पर पहुँच प्राप्त नहीं है, तो आप अगले चरण पर मदद प्राप्त करने के लिए अपने नेटवर्क संसाधन से संपर्क कर सकते हैं और इस प्रकार से सही संख्याएँ प्राप्त कर सकते हैं. यदि यह संभव नहीं है, तो संदेहास्पद Office 365 URL के प्रति एक PsPing लें और अपने प्रॉक्सी सर्वर के प्रति PsPing या Ping समय से उसकी तुलना करें.

उदाहरण के लिए, यदि आपके पास क्लाइंट से Office 365 URL के लिए 51.84 मिलीसेकंड हैं, और आपके पास क्लाइंट से प्रॉक्सी (या निकास बिंदु) के लिए 2.8 मिलीसेकंड हैं, तो आपके पास निकास से Office 365 के लिए 49.04 मिली सेकंड होते हैं. इसी तरह, यदि आपके पास दिन के सबसे व्यस्त समय के दौरान क्लाइंट से प्रॉक्सी के लिए 12.25 मिलीसेकंड और क्लाइंट से Office 365 URL के लिए 62.01 मिलीसेकंड का PsPing है, तो प्रॉक्सी निकास से Office 365 URL के लिए आपका औसत मान 49.76 मिलीसेकंड होता है.

अतिरिक्त ग्राफ़िक जो Office 365 से क्लाइंट के अलावा क्लाइंट से प्रॉक्सी से मिलिसेकंड में पिंग दिखाता है, ताकि मानों को घटाया जा सके.

समस्या निवारण के संबंध में, केवल इन आधाररेखाओं को सुरक्षित रखकर आपको कुछ रूचिकर मिल सकता है. उदाहरण के लिए, यदि आप पाते हैं कि प्रॉक्सी या निकास बिंदु से Office 365 URL के लिए आपके पास सामान्यत: लगभग 40 से लेकर 59 मिलीसेकंड की लेटेंसी होती है, और क्लाइंट से प्रॉक्सी या निकास बिंदु लेटेंसी लगभग 3 से 7 मिलीसेकंड है (दिन के उस समय के दौरान आपके निर्धारित नेटवर्क ट्रैफ़िक की मात्रा के आधार पर) तो यदि आपके अंतिम तीन क्लाइंट से प्रॉक्सी या निकास आधाररेखाएँ 45 मिलीसेकंड की लेटेंसी दिखाते हैं, तो आपको निश्चित रूप से पता चल जाएगा कि कुछ समस्या है.

उन्नत पद्धतियाँ

यदि आप वास्तव में क्या करने के लिए Office 365 के साथ अपने इंटरनेट अनुरोध हो रहा है, यह जानने के लिए चाहते हैं, तो आप नेटवर्क ट्रेस के साथ परिचित होने की आवश्यकता है। आप इन ट्रेस के लिए, HTTPWatch, Netmon, संदेश विश्लेषक, Wireshark, Fiddler, डेवलपर डैशबोर्ड उपकरण पसंद कौन सा उपकरण महत्वपूर्ण नहीं है या उस उपकरण कैप्चर करें और नेटवर्क ट्रैफ़िक को फ़िल्टर कर सकते हैं जब तक किसी भी अन्य कार्य करेगा। यह एक से अधिक की समस्या का अधिक पूर्ण चित्र प्राप्त करने के लिए इन उपकरण चलाने के लिए लाभप्रद है आप इस अनुभाग में दिखाई देंगे। जब आप का परीक्षण कर रहे हैं, तो इन उपकरणों से कुछ भी प्रॉक्सीज़ उनके स्वयं दाईं ओर के रूप में कार्य करते हैं। Netmon 3.4, HTTPWatchया WireSharkकम्पेनियन आलेख में, कार्य-प्रदर्शन समस्या निवारण के लिए Office 365 योजना, उपयोग किए गए उपकरण शामिल हैं।

कार्य-प्रदर्शन आधाररेखा ग्रहण करना इस पद्धति का साधारण भाग है, और जब आप किसी कार्य-प्रदर्शन समस्या का समाधान करते हैं तो इनमें से अधिकांश चरण समान होते हैं. कार्य-प्रदर्शन हेतु आधार रेखाएँ बनाने की अधिक उन्नत पद्धतियों के लिए आपको और अधिक नेटवर्क ट्रेसेज़ लेने और संग्रहीत करने की आवश्यकता होती है. इस आलेख में दिए गए अधिकांश उदाहरण SharePoint Online का उपयोग करते हैं, लेकिन आपको पूरे Office 365 सेवाओं के सामान्य कार्यों की एक सूची विकसित करनी चाहिए जिनका परीक्षण करने और रिकॉर्ड करने के लिए आपने सदस्यता ली है. यहाँ एक आधार रेखा का उदाहरण दिया गया है:

  • SPO के लिए आधार रेखा सूची - चरण 1: SPO वेबसाइट के मुख पृष्ठ पर ब्राउज़ करें और नेटवर्क ट्रेस करें. ट्रेस सहेजें.

  • SPO के लिए आधार रेखा सूची - चरण 2: एंटरप्राइज़ खोज के माध्यम से एक शब्द (जैसे अपनी कंपनी का नाम) खोजें और नेटवर्क ट्रेस करें. ट्रेस सहेजें.

  • SPO के लिए आधार रेखा सूची - चरण 3: एक बड़ी फ़ाइल को SharePoint Online दस्तावेज़ लाइब्रेरी पर अपलोड करें और नेटवर्क ट्रेस करें. ट्रेस सहेजें.

  • SPO के लिए आधार रेखा सूची - चरण 4: OneDrive वेबसाइट के मुख पृष्ठ पर ब्राउज़ करें और नेटवर्क ट्रेस करें. ट्रेस सहेजें.

इस सूची में उन सबसे महत्वपूर्ण सामान्य कार्यों को शामिल किया जाना चाहिए जिन्हें उपयोगकर्ता SharePoint Online के लिए अपनाते हैं. ध्यान दें कि अंतिम चरण पर, व्यवसाय के लिए OneDrive पर जाने के लिए ट्रेस करना, SharePoint Online मुख पृष्ठ (जिसे अक्सर कंपनी द्वारा अनुकूलित किया जाता है) और व्यवसाय के लिए OneDrive मुख पृष्ठ, जिसे बहुत कभी-कभी ही अनुकूलित किया जाता है, दोनों के लोड बीच की तुलना शामिल करता है. SharePoint Online साइट धीरे लोड होने पर यह एक बहुत ही मूल परीक्षण होता है. आप इस अंतर को अपने परीक्षण में रिकॉर्ड कर सकते हैं.

यदि आपको कोई कार्य-प्रदर्शन समस्या आ रही हो, तो कई चरण आधार रेखा अपनाते समय उठाए जाने वाले चरणों के समान होते हैं. नेटवर्क ट्रेस महत्वपूर्ण हो जाते हैं, इसलिए हम आगे महत्वपूर्ण ट्रेस लेने के तरीके को हैंडल करेंगे.

कार्य-प्रदर्शन समस्या का, अभी, प्रबंधन करने के लिए आपको कार्य-प्रदर्शन समस्या का अनुभव करते समय ट्रेस लेने की आवश्यकता होती है. लॉग्स एकत्रित करने के लिए आपके पास समुचित उपकरण मौजूद होना आवश्यक है, और आपके पास एक कार्ययोजना अर्थात समस्यानिवारण क्रियाओं ऐसी सूची होना आवश्यक है, जिसके द्वारा आप यथासंभव सर्वोत्तम जानकारी एकत्र कर सकते हैं. किया जाने वाला पहला कार्य परीक्षण के दिनांक और समय को रिकॉर्ड करना है, जिससे फ़ाइलों को ऐसे फ़ोल्डर में सहेजा जा सके जो समय को दर्शाता हो. इसके बाद, समस्या के चरणों को स्वयं ही कम करें. ये वे सटीक चरण हैं, जिनका उपयोग आप परीक्षण के लिए करेंगे. मूलभूत बातें न भूलें: यदि समस्या केवल Outlook के साथ हो, तो यह रिकॉर्ड करना सुनिश्चित करें कि समस्या गतिविधि केवल Office 365 सेवा में ही घटित होती है. इस समस्या के सीमा-क्षेत्र को कम करने से आपको समस्या के आपके संभावित समाधान पर ध्यान केंद्रित करने में सहायता मिलेगी.

नोट: मशीन अनुवाद अस्वीकरण: यह लेख मानवीय हस्तक्षेप के बिना एक कंप्यूटर प्रणाली द्वारा अनुवादित किया गया है. Microsoft, इन मशीन अनुवादों को गैर-अंग्रेज़ी भाषी उपयोगकर्ताओं को Microsoft उत्पादों, सेवाओं और तकनीकों से संबंधित सामग्री का आनंद लेने में सहायता के लिए प्रदान करता है. लेख, मशीन द्वारा अनुवादित होने के कारण इसमें शब्दावली, वाक्य रचना या व्याकरण की त्रुटियाँ हो सकती हैं.

यह भी देखें

Office 365 समाप्ति बिंदु को प्रबंधित करना

अपने कौशल का विस्तार करें
प्रशिक्षण का अन्वेषण करें
पहले नई सुविधाएँ प्राप्त करें
Office प्रतिभागी में शामिल हों

क्या यह जानकारी मददगार थी?

आपकी प्रतिक्रिया के लिए आपको धन्यवाद!

आपकी प्रतिक्रिया के लिए धन्यवाद! ऐसा लगता है आपको हमारे किसी Office सहायता एजेंट से कनेक्ट करना मददगार हो सकता है.

×